34.1 C
New Delhi
Saturday, November 26, 2022

पंजाब चुनाव: रुझानों में AAP की लहर, अमृतसर ईस्ट से मजीठिया और सिद्धू दोनों हारे

Punjab: हाल ही में हुए 117 सीटों वाले पंजाब चुनाव 2022 के लिए वोटों की गिनती आज (10 मार्च, 2022) सुबह 8 बजे शुरू होगी। पंजाब में 20 फरवरी, 2022 को मतदान हुआ था।

चरणजीत सिंह चन्नी ने ट्विट कर अपनी हार स्वीकार की है। मैं विनम्रतापूर्वक पंजाब के लोगों के फैसले को स्वीकार करता हूं और आम आदमी पार्टी और उनके चुने हुए सीएम भगवंत मान जी को जीत के लिए बधाई देता हूं। मुझे उम्मीद है कि वे लोगों की उम्मीदों पर खरे उतरेंगे।

आप प्रमुख और दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में पार्टी को मिली बड़ी जीत के बाद कहा, जनता ने बताया केजरीवाल सत्ता भक्त है। हमने सिस्टम बदला है। अब हम नया भारत बनाएंगे। जिसमें भारत यूक्रेन नहीं जाएंगे

अरविंद केजरीवाल ने कहा, चन्नी को मोबाइल रिपेयर करने वालों ने हराया। उनकी मां स्कूल में सफाईकर्मी हैं। एक आम महिला ने चन्नी को हराया।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर हार स्वीकार कर ली है। उन्होंने कहा कि मैं पूरी विनम्रता के साथ लोगों के फैसले को स्वीकार करता हूं। लोकतंत्र की जीत हुई है। पंजाबियों ने सांप्रदायिक और जातिगत रेखाओं से ऊपर उठकर और मतदान करके पंजाबियत की सच्ची भावना दिखाई है। आम आदमी पार्टी और भगवंत मान को शुभकामनाएं।

जीत के बाद भगवंत मान ने कहा कि विरोधी पार्टियों के नेताओं ने अरविंद केजरीवाल और मुझपर निजी टिप्पणी की गई, ग़लत शब्दों का इस्तेमाल किया। उनकी शब्दावली उन्हें मुबारक हो। उन्हें माफ कर दीजिए लेकिन आगे से सबको पंजाब के पौने तीन करोड़ पंजाबियों की इज़्ज़त करनी पड़ेगी।

उन्होंने कहा, हम सभी एक साथ मिलकर सेवा करेंगे, जैसे वोट डाला है वैसे ही एकजुट होकर पंजाब को चलाएंगे। पंजाब पहले महलों से चलता था, अब पंजाब गांवों से ही चलेगा। जितने बड़े नाम थे, सब हार रहे हैं। हमने लिखकर दिया था चन्नी साहब हार रहे हैं, वो हो गया है।

भगवंत मान ने कहा कि सरकार बनने के बाद हमारी पहली कलम बेरोजगारी को दूर करने के लिए चलेगी। हमें युवाओं को रोजगार देना है। आप मेरे ऊपर यकीन रखें, आपको एक महीने में ही अंतर नज़र आने लगेगा। भगवंत मान ने कहा कि पंजाब के किसी भी दफ्तर में मुख्यमंत्री की फोटो नहीं लगेगी, सिर्फ भगत सिंह और बाबा साहेब अंबेडकर की तस्वीर लगेगी।

ताजा अपडेट-

  • दाखा से शिरोमणि अकाली दल के मनप्रीत सिंह अयाली ने 5807 मतों से जीत हासिल कर ली है। वहीं कांग्रेस के कैप्टन संदीप सिंह संधू दूसरे नंबर पर रहे
  • बलुआना से आम आदमी पार्टी के अमनदीप सिंह मुसाफिर ने 19173 वोटों से दर्ज की जीत। यहां से बीजेपी की वंदना संगवाल दूसरे स्थान पर रहीं
  • आनंदपुर साहिब विधानसभा से हरजोत सिंह बैंस ने 45780 से जीत हासिल की है। वहीं कांग्रेस के कंवर पाल सिंह यहां दूसरे स्थान पर रहे
  • अमृतसर साउथ से आम आदमी पार्टी के इंदरबीर ने 27503 वोटों से जीत हासिल की। यहां से शिरोमणि अकाली दल के तलबीर सिंह गिल दूसरे स्थान पर रहे
  • अमृतसर सेंट्रल विधानसभा सीट से AAP के अजय गुप्ता ने 14026 मतों से जीत हासिल की हैं। वहीं कांग्रेस के ओम प्रकाश सोनी यहां से दूसरे स्थान पर रहे
  • अभोर से कांग्रेस के संदीप जाखड़ को 5471 वोटों से मिली जीत। उन्होंने आम आदमी पार्टी के कुलदीप कुमार मात दी है
  • पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू अमृतसर पूर्व से 6,750 मतों के अंतर से हार गए हैं
  • पंजाब की रायकोट विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के हाकम सिंह ठेकेदार जीत गए हैं
  • 5 बार मुख्यमंत्री रहे अकाली नेता प्रकाश सिंह बादल भी लांबी से हारे
  • अमृतसर ईस्ट विधानसभा सीट पर अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया और पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू की लड़ाई में आम आदमी पार्टी की जीवनजोत कौर ने मारी बाजी
  • भगवंत मान मुख्यमंत्री पद की शपथ शहीदे आजम भगत सिंह के गांव में लेंगे। भगवंत मान ने ऐलान किया है कि वो शहीदे आजम भगत सिंह की जन्मभूमि खटकरकलां पर जाकर सीएम पद की शपथ लेंगे
  • अमलोह विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के गुरिंदर सिंह गैरी जीत गए हैं। उन्होंने अकाली दल के गुरप्रीत सिंह राजू को 24,663 वोट से हराया है
  • कपूरथला विधानसभा सीट से कांग्रेस के राणा गुरजीत सिंह जीत गए हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी के सुखविंदर सिंह को 20,826 वोट से हराया है
  • पटियाला विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के अजीत पाल सिंह कोहली जीत गए हैं। उन्होंने पंजाब लोक कांग्रेस के कैप्टन अमरिंदर सिंह को 19,873 वोट से हराया है
  • चुनाव आयोग के अनुसार, पंजाब की पठानकोट विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के अश्वनी कुमार शर्मा जीत गए हैं। उन्होंने कांग्रेस के अमित विज को 7759 वोट से हराया है।
  • पंजाब की लहरा सीट से आम आदमी पार्टी के बरिंदर कुमार गोयल वकील ने अकाली दल (संयुक्त) के परमिंदर सिंह ढिंढसा को 26,518 वोट से हरा दिया है
  • अभिनेता सोनू सूद की बहन मालविका सूद मोगा से 19535 वोटों से पीछे चल रही हैं
  • भगवंत मान धुरी से 45 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं
  • सुखबीर सिंह बादल को जलालाबाद से हार का सामना करना पड़ा है। उन्हें आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार ने हराया है
  • कल बैठक के बाद राज्यपाल को इस्तीफा सौंप सकते हैं सीएम चन्नी
  • पटियाला से कैप्टन अमरिंदर सिंह हारे। कैप्टन अमरिंदर 19797 वोटों से Aap के उम्मीदवार अजितपाल सिंह कोहली से हारे हारे
  • पंजाब में आम आदमी पार्टी-91 और शिरोमणि अकाली दल-06, कांग्रेस-17, बीजेपी- 02 और 01 सीट पर अन्य आगे
  • प्रकाश सिंह बादल लांबी सीट से पीछे
  • शुरुआती रुझानों में आम आदमी पार्टी ने पंजाब में बहुमत का आंकड़ा पार किया
  • मुख्यमंत्री चन्नी, कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिद्धू पीछे चल रहे हैं
  • अब तक के रुझानों में AAP में 60 सीटों पर आगे हो गई है, जबकि कांग्रेस 39 सीटों पर आगे है
  • कांग्रेस के नवजोत सिंह सिद्धू तीसरे नंबर पर पहुंच गए हैं
  • पूर्व CM प्रकाश सिंह बादल आगे चल रहे हैं

    पंजाब में चुनाव नतीजे आने के बाद अरविंद केजरीवाल का पहला ट्वीट आया है।

राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) के अनुसार, पंजाब में 2.14 करोड़ से अधिक योग्य मतदाता हैं, जिसमें 65.32 प्रतिशत मतदान हुआ, जो 2017 से काफी कम है। बता दें साल 20217 में पंजाब में 77.36 प्रतिशत मतदान हुआ था।

परिणाम से पहले पंजाब में आम आदमी पार्टी के नेता और मुख्यमंत्री पद के दावेदार भगवंत मान के संगरुर स्थित घर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। घर पर जलेबी तैयार की जा रही है। घर को फूलों से सजाया जा रहा है।

नतीजों से ठीक पहले देर रात पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी चमकौर साहब के गुरुद्वारा श्री कतलगढ़ साहिब में नतमस्तक हुए और उन्होंने अपनी और अपनी पार्टी की जीत के लिए अरदास की। चन्नी ने कहा कि अब तो ईवीएम मशीनें ही बताएंगी कि पंजाब में कौन जीतेगा।

इस बीच, कई एग्जिट पोल के अनुसार, अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली आम आदमी पार्टी राज्य में भारी जीत के लिए तैयार है। एग्जिट पोल की भविष्यवाणियों की मानें तो आप (आम आदमी पार्टी) के सीएम उम्मीदवार भगवंत मान पंजाब के अगले मुख्यमंत्री होंगे।

साल 2017 में 117 में से 80 सीटें जीतने के बाद कांग्रेस ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री बनाया था। हालांकि चार साल बाद नवजोत सिंह सिद्धू से हुए विवाद के बाद अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से त्यागपत्र देना पड़ा और चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया गया।

वहीं, कांग्रेस की बात करें तो 2022 का विधानसभा चुनाव पार्टी के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन गया है। जिसके लिए कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। कांग्रेस ने 2017 में पंजाब की 117 में से 80 सीटें जीती थीं। अब सबकी नजर है कि क्या कांग्रेस सत्ता बरकरार रख पाती है।

20 फरवरी को हुए मतदान में पंजाब के 2.14 करोड़ मतदाताओं ने कुल 1304 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में बंद कर दी। पंजाब में कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, अकाली दल-बसपा और भाजपा-पंजाब लोक कांग्रेस में लड़ाई देखी गई। हालांकि पंजाब विधानसभा चुनाव कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा की लड़ाई के रूप में देखा जा रहा है।

SHARE
Bebak Newshttp://bebaknews.in
Bebak News is a digital media platform. Here, information about the country and abroad is published as well as news on religious and social subjects.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

114,247FansLike
138FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

SHARE