Share
कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने किसानों को बांटें 52 करोड़ मुआवजा राशि के चेक, जताई खुशी

कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने किसानों को बांटें 52 करोड़ मुआवजा राशि के चेक, जताई खुशी

हरियाणा ब्यूरो: कुंडली-मानेसर-पलवल यानी केएमपी एक्सप्रेसवे के लिए पूर्व कांग्रेस सरकार द्वारा अधिकृत की गई किसानों की जमीनों का बचा हुआ 52 करोड़ रुपये का मुआवजा आज कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने अपने फरीदाबाद कार्यालय से किसानों को वितरित किया। इस दौरान कई किसानों ने जहां लंबे वक्त के बाद मिले मुआवजे से खुश दिखाई दिए तो कई किसानों ने इस मुआवजे को लेकर आपत्ति भी दिखाई। इस मौके पर पृथला क्षेत्र के विधायक टेकचंद शर्मा और जिला उपायुक्त के अलावा जिले के आलाधिकारी मौजूद रहे।

कैबिनेट मंत्री ने किसानों को बांटा मुआवजा

आज कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने किसानों को उनकी पूर्व सरकार के कार्यकाल के दौरान अधिग्रहित की गई जमीनों का बचा हुआ 52 करोड़ का मुआवजा वितरित किया गया। आपको बता दें कि पूर्व की कांग्रेस सरकार ने केएमपी एक्सप्रेसवे के लिए किसानों की जमीनों का अधिग्रहण किया था।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि पूर्व की सरकार के समय किसानों की एक्वायर की गई जमीनों का बचा हुआ आखिरी मुआवजा आज किसानों में वितरित किया गया है। जो कुल 52 करोड़ रुपये की राशि थी। उन्होंने बताया कि पूर्व सरकार के समय किसानों के मुआवजे की राशि मनोहर सरकार ने दी है, जिसकी उन्हें खुशी है। इससे पहले भी किसानों को कई सौ करोड़ मुआवजे की राशि प्रदेश सरकार ने वितरित की थी।

कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने किसानों से अपील की है कि वह इस पैसे को गाड़ियां खरीदने ओर अन्य जगह पर खर्च करने की बजाय इस पैसे से या तो जमीन खरीदें या फिर अपने बच्चों के व्यवसाय में लगाएं।

वहीं, लाखों के मुआवजे के चेक लेने वाले कई किसानों में खुशी थी तो कई किसानों को सरकार द्वारा दिए गए इस मुआवजे में संतुष्टी नजर नहीं आई और उन्होंने कहा कि अब तो सरकार ने जो मुआवजा देना है वहीं देंगे। कई किसानों का आरोप है कि उनको मुआवजा राशि के लिए बुलाया गया लेकिन ना तो उनके नाम का चेक है और ना ही मुआवजे की लिस्ट में उनका नाम है। बल्कि मुआवजे के लिए जब वो संबंधित अधिकारी के पास जाते हैं तो उनसे पैसे मांगे जाते हैं।

टीम बेबाक

(Visited 3 times, 1 visits today)

Leave a Comment