Share
स्पाइडर मैन बनकर बच्चों के साथ करता था गंदी हरकत, मिली105 साल की सजा

स्पाइडर मैन बनकर बच्चों के साथ करता था गंदी हरकत, मिली105 साल की सजा

नई दिल्ली

स्पाइडर मैन बनकर बच्चों के साथ गंदी हरकत करने वाले एक शख्स के कारनामे का खुलासा हुआ है। बता दें ये शख्स बच्चों के हॉस्पिटल में सफाई का काम करता था, इस वजह से वो बच्चों को अपनी हवस का सिकार बनाता था।

वहीं, मामले की गंभीरता को देखते हुए अदालत ने इस शख्स को 105 साल की सजा सुनाई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अमरीका के नैशविले में रहने वाला जराट टर्नर(36) बच्चों की पोर्नोग्राफी करने और आपत्तिजनक वीडियोज बेचने का दोषी पाया गया है।

वह स्पाइडर मैन बनकर बच्चों का अश्लील वीडियो बनाता था, फिर उन वीडियोज को वह ऑनलाइन बेच देता था। शख्स पर लगे सभी आरोप कोर्ट ने सही पाए, जिसके बाद उसे यह सजा दी गई है। रिपोर्ट की मानें तो टर्नर ने कई वीडियोज इंटरनेट पर अपलोड किए और लिखा, ‘मुझे बच्चे सबसे ज्यादा प्यारे लगते हैं और उम्मीद है कि आपको भी ये वीडियो देखने के बाद इन पर प्यार आएगा।

बता दें, टर्नर 2014 में उस वक्त सुर्खियों में आया था जब उसने पहली बार स्पाइडर मैन की ड्रेस पहनकर हॉस्पिटल के कांच साफ किए थे। इसके बाद उसे नैशविले का स्पाइडर मैन कहा जाने लगा था। लेकिन फिर चाइल्ड पोर्नोग्राफी में पकड़े जाने पर उसे उम्र से भी ज्यादा यानी 105 साल की जेल के साथ-साथ 31 हजार डॉलर यानी करीब 20 लाख रुपये का हर्जाना पीड़ित बच्चों को देने के लिए कहा गया।

टर्नर ने अपने घर की बेसमेंट में एक 10 साल की लड़की और 12 साल के लड़के का वीडियो बनाया। इस दौरान टर्नर ने बच्चों के साथ छेड़छाड़ भी की। बाद में उसने पोर्न वीडियोज इंटरनेट पर वायरल कर दिए थे। इसी के जरिए टर्नर को पकड़ा गया है। टर्नर ने पुलिस से बचने के लिए सारे जुगाड़ तैयार कर रखे थे।

टीम बेबाक

(Visited 22 times, 1 visits today)

Leave a Comment