Share
मानुषी छिल्लर के लिए MBBS करने की राह नहीं है आसान, पूरी करनी पड़ेगी 75 फीसदी हाजिरी

मानुषी छिल्लर के लिए MBBS करने की राह नहीं है आसान, पूरी करनी पड़ेगी 75 फीसदी हाजिरी

हरियाणा: सोनीपत के खानपुर में स्थित भगत फूल सिंह महिला मेडिकल में पढ़ने वाली मिस वर्ल्ड 2017 बनी मानुषी छिल्लर के सामने अब डॉक्टर बनने के लिए परेशानी खड़ी हो गई है। मानुषी छिल्लर ने दूसरे प्रॉफ के जनवरी 2018 में हुए एक्जाम अौर अप्रैल व मई में हुए सप्लीमेंट्री एक्जाम छोड़ दिए थे। जिसको लेकर अब गोहाना के खानपुर में स्थित भगत फूल सिंह महिला मेडिकल कॉलेज में एक्जाम के लिए रोक लगा दी गई है।

मानुषी छिल्लर को डॉक्टर बनने के लिए खड़ी हुई नई परेशानी

अब मानुषी को एक्जाम देने के लिए पीजीआई में पत्र देना होगा। जिसके बाद पीजीआई में एक्जाम में बैठने को लेकर आगे का फैसला किया जाएगा लेकिन उसके लिए भी मानुषी को हर प्रॉफ में थ्योरी में 75 प्रतिशत व प्रेक्टिकल में 80 प्रतिशत उपस्थिति करनी होगी।

देश को 17 साल बाद मिस वर्ल्ड का खिताब दिलाने वाली अपनी डॉक्टरी की पढ़ाई के लिए पहला प्रॉफ पूरा कर लिया था अौर जब मानुषी मिस वर्ल्ड के लिए गई थीं तो उसका दूसरा प्रॉफ हो गया था। उस समय मानुषी छिल्लर छुट्टी का पत्र देकर चली गई थीं। लेकिन मिस वर्ल्ड बनने के बाद वह अभी तक कॉलेज नहीं आई हैं। वहीं एक्जाम को लेकर भी मानुषी ने कॉलेज प्रशासन को कोई पत्र नहीं दिया। जिसको देखते हुए कॉलेज प्रशासन की ओर से मानुषी को आगे एक्जाम देने से रोक दिया जाएगा।

75 फीसदी कॉलेज में लगानी पड़ेगी हाजिरी

भगत फूल सिंह महिला मेडिकल कॉलेज के डायरेक्टर एपीएस बत्रा ने बताया कि मानुषी ने जनवरी 2018 में हुए प्रॉफ एक्जाम व अप्रैल अौर मई में हुए सप्लीमेंट्री एक्जाम भी नहीं दिए। इतना ही नहीं मानुषी ने एक्जाम नहीं देने को लेकर उसकी तरफ से कोई लिखित सूचना भी नहीं दी गई। जिसको लेकर अब वह कॉलिज में आकर सीधे एक्जाम नहीं दे सकती। आगे एक्जाम देने के लिए उसे पीजीआई से अनुमति लेनी होगी।

एक्जाम छोड़ने का मामला यूनिवर्सिटी सत्र पर जाता है किसी भी एमबीबीएस विद्यार्थी को मेडिकल कॉउंसलिंग के नियमों का पालन करना होता है, उसी के आधार पर परीक्षा दे सकता है। इसके लिए इसके लिए 75 प्रतिशत हाजरी व इंटरनल परीक्षा में 35 फीसदी मूल्यांकन जरुरी होता है। उसके बाद कॉलेज के डायरेक्टर और डीन को तय करना होता है कि विद्यार्थी परीक्षा दे सकता है या नहीं।

टीम बेबाक

(Visited 12 times, 1 visits today)

Leave a Comment