Share
सहारनपुर में 180 दलित परिवारों ने अपनाया बौद्ध धर्म

सहारनपुर में 180 दलित परिवारों ने अपनाया बौद्ध धर्म

उत्तर प्रदेश, सहारनपुर

सहारनपुर में हुए हिंसा के बाद भीम आर्मी पर दंगा फैलाने का आरोप लग रहा है। इसी से गुस्साए 3 गांवों के 180 परिवारों ने सामूहिक रूप से हिंदू धर्म का त्याग कर बौद्ध धर्म अपना लिया है। गांव वालों का कहना है कि पुलिस प्रशासन भीम आर्मी को बदनाम करने के लिए साजिश के तहत दंगा फैलाने का आरोप लगा रही हैं।

बताते चलें कि सहारनपुर हिंसा के बाद गांव रूपड़ी, ईगरी व कपूरपुर के 180 परिवारों ने सामूहिक रूप से बौद्ध धर्म अपना लिया है। उन्होंने देवी-देवताओं की मूर्तियां नहर में प्रवाहित कर दी। वे पुलिस-प्रशासन पर उत्पीड़न का आरोप लगा रहे हैं।

READ  एक महीने में ही बदहाल हो गया पशु आश्रय, किसानों ने DM का किया विरोध

मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने दलितों को मनाने की कोशिश की, लेकिन बात नहीं बनी। दलितों ने चेतावनी दी कि यदि भीम आर्मी के गिरफ्तार दलितों को नहीं छोड़ा गया तो सभी दलित हिंदू धर्म त्याग कर बौद्ध धर्म अपना लेंगे।

कपूरपुर गांव के रहने वाले दीपक ने आरोप लगाया कि पुलिस-प्रशासन जानबूझकर दलितों का उत्पीड़न कर रहा है। उन्होंने कहा कि दलितों के नेता और भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद के खिलाफ साजिश के तहत निशाना साधा जा रहा है।

READ  एक दर्दनाक हदासे में 10 लोगों की मौत, मुंडन कराने जा रहे थे सभी

गांव वालों ने पुलिस अधिकारियों को लिखित रुप से कहा कि दलित हिंदू धर्म में सुरक्षित नहीं हैं। वहीं गांव वालों ने कहा कि अगर प्रशासन ने दंगे में आरोपी बनाए गये दलितों को जल्द नहीं छोड़ा तो जिले के सारे दलित बौद्ध धर्म अपना लेंगे।

टीम बेबाक

SHARE ON :
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
(Visited 37 times, 1 visits today)