Share
नौकरी का झांसा देकर पहले बदमाशों ने किया गैंग रेप के बाद फिर किया बेचने का प्रयास

नौकरी का झांसा देकर पहले बदमाशों ने किया गैंग रेप के बाद फिर किया बेचने का प्रयास

उत्तर प्रदेश: देश में बढ़ती रेप की घटनाओं को लेकर सरकार ने भले ही कड़े कानून बनाये हो लेकिन रेप की घटनाओ में अंकुश नहीं लग पा रहा है। ताजा मामला यूपी का जहां नौकरी का झांसा देकर पहले छात्रा के साथ गैंग रेप की घटना को अंजाम दिया। फिर दरिंदो ने छात्रा को बेचने का प्रयास किया। किसी तरह जब छात्रा दरिंदो के चंगुल से छूटकर मुंबई पुलिस से गुहार लगाई। तब पुलिस ने छात्रा की पीड़ा सुनकर परिजनों को सूचित किया और फिर उन्हें सौंप दिया।

नौकरी का झांसा देकर पीड़िता संग किया गैंगरेप

इसके बाद पीड़ित छात्रा ने परिजनों के साथ बिंदकी थाने पहुंचकर इंसाफ की गुहार लगाई। लेकिन थाने में पीड़िता की कोई सुनवाई नहीं हुई। तो पीड़िता ने डीएम व एसपी से न्याय की गुहार लगाई, जिसके बाद एसपी के आदेश पर थाने पर मुकदमा दर्ज कर किया गया।

घटना फतेहपुर जिले के बिंदकी कोतवाली क्षेत्र के दुगरेई गांव की है, जहां नौकरी का झांसा देकर दरिंदों ने कानपुर लेजाकर गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया और फिर बेहोशी की हालत में मुंबई लेजाकर बेचने का प्रयास किया। दरिंदो की चंगुल से किसी तरह छूटी पीड़िता मुंबई के कल्याण थाने पहुंची और पुलिस को अपनी आप बीती बताई। पुलिस ने छात्रा के परिजनों को सूचित कर छात्रा को उन्हें सौंप दिया।

हॉस्टल में रहकर कर रही थी एसएससी की तैयारी

वहीं, पीड़िता की मानें तो इलाहाबाद हॉस्टल में रहकर एसएससी की तैयारी कर रही थी। तभी उसके गांव के अंकित ने फोन कर एएमसी आर्मी मेडिकल कालेज में नौकरी दिलाने के बहाने कानपुर बुलाया। जहां तीन लोगों ने उसके साथ गैंग रेप की घटना को अंजाम दिया और बेहोशी की हालत में मुंबई लेजाकर बेचने का प्रयास किया।

पीड़िता ने बताया कि जब उसे होश आया तो उनके मनसूबे देखकर पीड़िता वहां से भाग निकली और मुंबई के कल्याण थाने पहुंची। जहां उसने पुलिस को सब कुछ बताया। जिसके बाद पुलिस ने उसे परिजनों के साथ भेज दिया।

पीड़िता के मुताबिक, जब वह अपने परिजनों के साथ बिंदकी थाने पहुंची मुकदमा दर्ज करवाने तो पुलिस वालों ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। जिसके बाद पीड़िता ने डीएम व एसपी के चौखट पहुंचकर फरियाद लगाई। और आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

इस मामले में पुलिस अधिक्षक राहुल राज ने बताया की पीड़िता की तहरीर पर दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच का आदेश दे दिया गया है। इस दौरान जो भी दोषी पाए जाते हैं उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

गुरदास सिंह/टीम बेबाक

Leave a Comment