Share
‘दीदी’ को मात देने के लिए बंगाल की धरती पर ‘शाह’ की हुंकार

‘दीदी’ को मात देने के लिए बंगाल की धरती पर ‘शाह’ की हुंकार

पश्चिम बंगाल: कोलकाता में आज भारी जनसमूह के बीच भारतीय जनता पार्टी के अध्‍यक्ष अमित शाह ने दावा किया कि इस बार पश्चिम बंगाल में कमल जरूर खिलेगा। उन्‍होंने कहा कि सभास्‍थल पर मौजूद जनसैलाब यही संदेश दे रहा है। शाह ने कहा कि अब यह साफ हो गया है कि बंगाल की जनता बदलाव चाहती है। उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी को चुनौती देते हुए कहा कि हमारी आवाज को वो नहीं दबा सकती हैं। इस मौके पर उन्‍होंने कांग्रेस और राहुल गांधी को भी आड़े हाथ लिया।

शाह ने कहा कि यहां पर मौजूद लाखों लोग इस बात के गवाह हैं कि वह ममता सरकार से पूरी तरह से उब चुके हैं। उन्‍होंने यहां की सरकार से सवाल करते हुए कहा कि आखिर वह एनआरसी का विरोध क्‍यों कर रही हैं। उन्‍होंने एनआरसी की उपयोगिता बताते हुए कहा कि हम इसके जरिए ही बांग्‍लादेशी घुसपैठियों को रोक सकते हैं। शाह ने जोर देकर कहा कि यहां की जनता बांग्‍लादेशी घुसपैठियों को कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। शाह ने आगे कहा कि ममता जी इन घुसपैठियों को राज्‍य में शरण देना चाहती हैं।

घुसपैठिये टीएमसी के वोटर है साथ मे उन्होंने यह भी कहा कि पहले घुसपैठियों का वोट कम्युनिस्ट पार्टियों को मिलता था तो ममता घुसपैठियों का विरोध करती थीं, लेकिन जब यह वोटबैंक टीएमसी में खिसक गया तो वह एनआरसी का विरोध कर रही हैं। उन्होंने पश्चिम बंगाल को बांग्लादेश बना दिया है। इस मसले पर उन्‍होंने कांग्रेस की भी खिंचाई की। शाह ने कहा कि इस मामले में कांग्रेस और राहुल गांधी का भी स्‍टैंड साफ नहीं है।
शाह ने कहा कि पहले इस रैली को रोकने की कोशिश की गई और अब पश्चिम बंगाल के सारे स्थानीय चैनलों को डाउन कर दिया गया है, ताकि लोग रैली का प्रसारण न देख सकें। उन्होंने कहा कि भाजपा पश्चिम बंगाल की विरोधी कैसे हो सकती है, जबकि हमारी पार्टी के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंगाल से ही थे। भाजपा बंगाल विरोधी नहीं, ममता विरोधी है।

घुसपैठिये इस देश की एकता और अखंडता के लिए खतरा है
उन्‍होंने सभा स्‍थल पर लगे टीएमसी के पोस्‍टरों पर सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर हम बंगाल विरोधी कैसे हो सकते हैं। शाह ने कहा कि ममता जी भाजपा के लिए राष्‍ट्रहित पहले है और वोटबैंक की राजीनति बाद में है। ये घुसपैठिये पश्चिम बंगाल ही नहीं देश के लिए खतरा बन गए हैं। अगर उन्‍हें नहीं रोका गया तो यह देश के लिए खतरनाक होगा। शाह ने कहा कि ममता राज में बंगाल असुरक्षित है। उन्‍होंने जोर देकर कहा कि इस समस्‍या का एनआरसी मात्र समाधान है।

भाजपा अध्‍यक्ष ने कहा ये घुसपैठिये तृणमूल कांग्रेस ( टीएमसी) के वोटर हैं। इसलिए वह उनका समर्थन कर रहीं हैं। उन्‍होंने आगाह किया ये घुसपैठिये इस देश की एकता और अखंडता के लिए खतरा है। शाह ने कहा कि जब तक पश्चिम बंगाल में भाजपा की सरकार नहीं आएगी, तब तक घुसपैठियों की समस्‍या का समाधान नहीं हो सकता है।

शाह ने कहा कि ममता की सरकार जब से आई है, राज्‍य में भ्रष्टाचार बढ़ा है। सारदा, नारदा, रोजवैली,जैसे कई चिटफंड कंपनियों ने बंगाल की जनता को लूटा यहां कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ गई है कोयला लोहा पत्थर जमीन का अवैध कारोबार सिंडिकेट के जरिए फल फूल रहा है। कारखाने बंद हो रहे हैं और बम बनाने के कारखाने खुल रहे हैं। अपराध के सभी रिकॉर्ड ध्‍वस्‍त हो गए हैं। उन्‍होंने आश्‍वासन दिया कि अगर प्रदेश में भाजपा की सरकार आई तो सख्त कानून व्यवस्था होगी और पश्चिम बंगाल को पुरानी सांस्कृतिक पहचान दिलाने का काम किया जाएगा।

भाजपा के 65 कार्यकर्ताओं की हत्‍या करा दी गई

भाजपा अध्‍यक्ष ने कहा कि हाल में हुए पंचायत चुनावों में ममता सरकार ने विपक्षी उम्मीदवारों को उतरने ही नहीं दिया और सत्‍ता पक्ष के उम्मीदवारों का निर्विरोध चुने जाने का भी रिकॉर्ड बना दिया। उन्‍होेंने कहा कि भाजपा के 65 कार्यकर्ताओं की हत्‍या कर दी गई। इसके बावजूद पार्टी का प्रदर्शन शानदार रहा। शाह ने कहा कि कांग्रेस, कम्युनिस्ट पार्टियां या तृणमूल कांग्रेस को पश्चिम बंगाल की जनता ने मौका दिया लेकिन ये राज्य का विकास नहीं कर सके। भाजपा को मौका मिला तो ही राज्य का विकास हो सकेगा।

दुर्गा पूजा के दौरान दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन बंद कर दिया गया

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि दुर्गा पूजा के दौरान दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन बंद कर दिया गया, स्कूलों में सरस्वती पूजा रोक दी गई। अगर भाजपा की सरकार आई तो हर हाल में विसर्जन किया जाएगा। अमित शाह ने कहा कि अगर अगली बार दुर्गापूजा को रोका गया तो भाजपा के कार्यकर्ता ममता बनर्जी के सचिवालय की ईंट से ईंट बजा देंगे

टीम बेबाक

 

(Visited 3 times, 1 visits today)

Leave a Comment